केवल सच के साथ

6/recent/ticker-posts

Ad Code

Responsive Advertisement

भाजपा के स्थापना काल से जुड़े पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेश सिंह के निधन से सर्वत्र शोक की लहर,महुली घाट पर हुआ अंतिम संस्कार

भारतीय जनता पार्टी के स्थापना काल से जुड़कर पार्टी को  शीर्ष तक पहुंचाने वाले भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेश सिंह की कोरोना से हुई मौत ने भाजपा के नेताओ और कार्यकर्ताओं को झकझोर कर रख दिया है। पार्टी की स्थापना के बाद भाजपा में युवा मोर्चा के दूसरे जिलाध्यक्ष के पद की कमान संभालने से लेकर विभिन्न दायित्वो का निर्वहन करते हुए दो दो बार पार्टी का जिलाध्यक्ष रहते सुरेश सिंह ने भारतीय जनता पार्टी की नीतियों और कार्यक्रमो को गांव गांव तक पहुंचाने में सफलता हासिल की और जिले में भाजपा की नींव को मजबूत किया। वे रांची के रिम्स में कोरोना का इलाज करा रहे थे और दो दिन पूर्व अस्पताल प्रबंधन ने स्वस्थ होने के बाद उन्हें घर जाने की इजाजत दे दी थी।वे रांची स्थित निवास स्थान पर चले भी गए थे कि कुछ घण्टे बाद उनकी मौत हो गई। शनिवार को भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष और वर्तमान प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुरेश सिंह का पार्थिव शरीर रांची से उनके गांव आरा प्रखण्ड के गंगहर गांव पहुंचा तो जिले में शोक की लहर दौड़ गई।गांव के लोग शोक में डूब गए। भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रेम रंजन चतुर्वेदी ने पूर्व जिलाध्यक्ष  के गांव गंगहर पहुंच कर उनके  पार्थिव शरीर  पर पार्टी का झंडा अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेश सिंह का अंतिम संस्कार बड़हरा प्रखण्ड के महुली घाट स्थित गंगा नदी के तट पर किया गया।अंतिम संस्कार में गंगहर पंचायत के पूर्व मुखिया  संजय सिंह,भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विजय सिंह,अजय सिंह, अम्बिका सिंह,मदन सिंह,गजेंद्र सिंह,अखिलानन्द ओझा सहित उनके परिवार के सदस्य शामिल हुए। इस बीच भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष और प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुरेश सिंह के कोरोना से हुए निधन की खबर सुनते ही भाजपा के नेताओ और कार्यकर्ताओं के बीच शोक की लहर दौड़ गई है।सोशल मीडिया पर  भी उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है।

भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रेम रंजन चतुर्वेदी, आरा के सांसद सह केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह, आरा के विधायक व बिहार सरकार के कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह,विधायक और पूर्व मंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह,पूर्व विधायक व प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह टाइगर,श्रीमती मुन्नी देवी, शिवेश राम,उपाध्यक्ष लव पाण्डेय,अदित्यविजय प्रताप सिंह,शम्भू चौरसिया, कौशल यादव, रामदयाल कुशवाहा,प्रतिमा चन्द्रवंशी, मंगलाचरण तिवारीमहामंत्री मदन स्नेही,श्री भगवान सिंह,अभिषेक राय,मंत्री वंदना राजवंशी,वरुण सिंह, पूनम कुशवाहा,जिला प्रवक्ता डॉ. सुरेन्द्र सागर, संजय सिंह,नवीन प्रकाश,मनीष प्रभात,कोषाध्यक्ष दीपक सिंह,कार्यालय मंत्री सचिन,आईटी प्रकोष्ठ के संयोजक कुमार गौतम, युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष प्रकाश सिंह,किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष रंग बहादुर यादव,शिक्षा प्रकोष्ठ के संयोजक डॉ. अमर,व्यावसायिक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक प्रेम पंकज उर्फ ललन जी, महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष रानी राय, अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के संयोजक हरे राम चन्द्रवंशी,प्रदेश कार्यसमिति सदस्य  विजय सिंह, मुक्तेश्वर ओझा उर्फ भुवर ओझा,राजेन्द्र तिवारी, सीडी शर्मा,  कौशल कुमार विद्यार्थी,कामेश्वर सिंह,सूर्यभान सिंह,महेश पासवान,ई धीरेंद्र सिंह, हरेंद्र पाण्डेय,प्रह्लाद राय,धीरेंद्र प्रसाद सिंह,अखिलानन्द ओझा,अजय सिंह,प्रो.महेंद्र प्रसाद सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष अंगद सिंह,मिथलेश कुशवाहा, राणा प्रताप सिंह,अधिवक्ता मंच के प्रदेश संयोजक तारकेश्वर ठाकुर,अमरेन्द्र शक्रवार,किरण सिंह,नरेंद्र तिवारी,बिनय बेलाउर, परशुराम चौधरी सहित सैकड़ों लोगों ने पूर्व जिलाध्यक्ष के निधन पर शोक जताया है और उनके निधन को पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति बताई है। भाजपा के संस्थापक सदस्य और पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने कहा सुरेश सिंह जी का निधन मेरी व्यक्तिगत क्षति भाजपा के संस्थापक सदस्य और पूर्व  राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने  भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेश सिंह की कोरोना से हुई मौत पर अपनी तरफ से गहरी संवेदना व्यक्त की है और कहा है कि हमने पार्टी के स्थापना काल के एक मजबूत योद्धा को खो दिया है।उन्होंने कहा कि सुरेश सिंह ने पार्टी के स्थापना के बाद से  ही भोजपुर जिले में पार्टी को मजबूत करने के लिए पूरा जीवन समर्पित कर दिया और आजीवन पार्टी के झंडे को बुलंदियों पर पहुंचाने में लगे रहे। उन्होंने कहा कि उनकी मौत से मुझे व्यक्तिगत क्षति हुई है और हमने जिले में  भीष्मपितामह की तरह खड़े एक जुझारू और मजबूत नेता को खो दिया है।

Post a Comment

0 Comments